Wednesday, 13 December 2017

Exam में Top कैसे करे आसान उपाय पूरी जानकारी हिंदी में

 exam me top kare.आजकल दुनिया  कुछ लोग तो इतने टेलेंटेड होते है की वो किसी भी जगह में first आते है , चाहे वो पढाई हो , sports  हो ,   dance competition हो या और कुछ भी। अगर आप average या low level के student   हो तो  आप ये जरूर  जानना चाहते होंगे की आखिर कैसे Topper student   पढाई  कैसे करते होंगे ? क्या वो कोई schedule use करते होगे या नहीं ? अपनी पढाई करने के लिए  क्या कोई trick use करते है ? तो अगर आपको इसका answer जानना है तो ये आर्टिकल आपके लिए ही है।

सबसे पहले बात करते है average student की  आखिर वो क्या करते है।  जब school में नोटीस कर दिया जाता है की 30 दिन बाद आपका exam है , तोज़्यादातर student यही सोचते है की exam के आने में देर है ,  कल पढ़ लूंगा।  वैसे भी एक दिन नहीं पढूंगा तो fail थोड़ी ना हो जाऊंगा। अभी तो बहुत टाइम है , कल से शुरू कर दूंगाऔर कल आने पर सोचते है की यार अभी मन नहीं कर रहा है दोपहर को कर लूंगा और दोपहर आने पर सोचते है की रात को कर लूंगा।  ऐसा करते करते पूरा दिन कुछ भी नही पढ़ते ऐसा करते करते  exam के 10 -12 दिन गुजर जाते है ,  तब ये  सोचते है की यार बहुत कम टाइम है और पढ़ने लग जाते है।


Exam me top kaise kare



10 - 12 दिन की पढाई और स्कूल में जो सिखाया है , सिर्फ उसको समज आ जाने से exam में उनको मन चाहा रिजल्ट भी नहीं  मिलता है  और बाद मै वो उदास हो  जाते थे और कहते है की अगली बार ज्यादा महेनत करूँगा। अगर आप average student तो आपके आपके साथ भी ऐसा होता होगा।  भाई ,मेरी जब 10 -12 के बोर्ड के exam आते थे तो मै भी ऐसा ही किया करता था लेकिन अब समज आ आ गया है की मुझे क्या करना चाहिए जिससे जिस्से मुझे मन चाहा result मिले मिले।

ज्यादातर student exam के पहले कुछ नहीं पढ़ते और एग्जाम के 1 month पहले ये कहते ही की उस्से 7 -8 घंटे तक पढ़ना है और schedule भी  बनाते है।  जो कुछ इस तरह का होता है।
6 घंटे सोने के निकल दो।
6 घंटे school के  रहेगा।
3 घंटे सुबह  / दोपहर  / रात  का खाना खाने के लिए।
2 घंटे खेलने के लिए होंगे।
2 घंटे इधर-उधर  के काम करने के।

total होंगे 19 घंटे ,और बाकि बचे सिर्फ 6 घंटे ...  यार लेकिन हमारा target तो 7 - 8 घंटे पढ़ने करने का था।  तो सोचते है ,यार कोई बात नहीं  5 घंटे ही पढ़ लेते है।  लेकिन मजेदार बात तो ये है की वो 5 घंटे में से 1 -2 घंटे ही ठीक से पढ़ पाते है और ज्यादातर लोग इस schedule को follow ही नहीं करते है।  भाई , मै भी ऐसा ही क्या करता था।


ज्यादातर topper student पहले पढ़ी करते है उसके बाद schedule बनाते है , और कुछ ही टोपर होते है जो 90% + लाते है है , वो सबसे पहले अपना schedule बनाते है और उससे आखिर तक डटे रहते है।

Average student से टोपर student  कैसे बने ?


मै आपको जो बात बताने वाला हु  उस्से आप जब चाहे पढ़ सकते है, जो टाइम निकला है तब तक पढ़ सकते है इन् सब को manage करने के लिए आपको 2 बाते बताऊंगा उसको follow करना होगा।
1 ) " अगर आप खुद पढ़ना नहीं चाहते , तो  इस दुनिया की कोई ताकत नहीं है जो आपको पढ़ा सके "
ये जो quotes आपने पढ़ा है , उसका मतलब ये है की जब तक आप खुद नहीं पढ़बैठोगे तब तक इस दुनिया में से कोई भी इंसान नहीं है जो आपको पढ़ा सके, यानि की आप खुद को ही पढ़ना होगा।  आप अपना कोई टाइम fix कर दो की मुझे  करना क्या है यानि की आप कोई goal सेट करो की मुझे इतने टाइम में ये करना है। example देकर समजता हु , अगर आपने आज ही decide कर लिया है की स्कूल या ऑफिस जाने के बाद खाना खाऊंगा फिर 30 , minutes रेस्ट करके 3 घंटे तक पढाई करूँगा। तो कल खाना खाने के बाद उस टाइम आप कुछ भी कर रहे हो तो आपके मन में 2 चॉइस होंगी , वो आपके उप्पेर depend है , आप जानते है की कोनसा रास्ता आपको आपकी मंजिल तक पहुंचाएगा।

मैंने उप्पर के example में कल की बात की है , कल क्यों आज -अभी से शुरुआत करनी चाहिए। यहाँ पर  schedule में हमने 7 -8 घंटे तक पढ़ने के लिए कहा है , अगर आपको 1 घंटा या 30 मिनट भी मिले तो आप उस टाइम पढ़ लीजिये , क्यों  पढ़ना आपको है किसी और को नहीं है।

लेकिन कुछ student ऐसे भी होते  है जो procrastination  यानि की टालने की आदत की वजह से पढाई को सुरु ही नहीं करते है। आखिर हम अपने काम को टालते क्यों है ? तो answer ऐसा होता है की यार मन नहीं करता , आलस आता है , मुश्किल लगता है  .. ऐसा बोलते है।  में आपको एक रूल सिखाता  जिस्से आप procrastination  को दूर कर सके ?

2 ) 5 minutes rule
आपको भी ये अजीब लगता होगाना , मुझे भी लगता है।  लेकिन में ये बता दू की इस rule ने मेरी पूरी लाइफ बदल दी। में जो चहु वो काम कर सकता हु ,जिस  भी टाइम।  ये रूल है :- " जो काम आप करना चाहते है लेकिन उसे करने में आलश  आ रहा है , boring काम लग रहा है तो टालने की बजाये सिर्फ ये सोचो की मुझे ये काम सिर्फ 5 मिनट तक करना है , उसके बाद में फ्री हु " . example देकर समजता हु :- अगर आप एक स्टूडेंट हो और आपने तय किया की 4  बजे  मुझे पढ़ने  बैठना है , अगर उस्स  टाइम में आपको आलश आ रहा है  या मन नहीं कर रहा है तो आप सिर्फ ये सोचो की मुझे सिर्फ 5 मिनट तक  ही पठाना है। आपके मन को भी अच्छा लगेगा की सिर्फ 5 मिनट तक ही तो पढ़ना है , तो ये रूल  आपको पढ़ने को बैठा देगा।  आपको पता भी नहीं होगा अगर आप एक बार पढने के लिए बैठ गए तो 10 -15 मिनट तक तो आप पढ़ ही सकते हो। ऐसे ही दूसरे दिन भी पढ़ने बेठ जाओ और 10 -15 मिनट के बाद फिर से नार्मल life में चले जाना।  तीसरे दिन भी जब पठाने का टाइम हुआ तो खुद से कहो की सिर्फ 5 मिनिट ही पठाना है और बैठेगे तो 20 -25 तक पढ़ सकोगे , ऐसा करते करते एक महीने के भीतर आप 2 -3 घंटे तक तो आसानी से पढ़ सकते है क्यों की आपकी आदत पड़ गई है पढाई की।

आपको  लगता होगा की ये जूठ होगा , proof  आपको देता हु :- आप जानते होंगे की जो topper student होंगे आपके आसपास , वो स्कूल के पहले दिन से  धीरे  धीरे  मतलब की 5 -10 मिनट्स तक पढ़ना सुरु कर देते  है और जब exam आती है तो 5 -7 घंटे  तक लगातार पढ़ते है , ऐसा इसलिए हुआ की उन्होंने भी 5 मिनट रूल को follow किया है , लेकिन वो जानते नहीं है।

आपको भी ऐसा लगता होगा की 5 मिनट्स रूल में ऐसा क्या है ? तो में आपको simple word  में बता दू तो इस रूल से आपको अपनी काम स्टार्ट करने की प्रेरणा मिलती है , क्यों की जब तक स्टार्ट नहीं करोगे   तो success कहा से मिलेगी।

last  word  :- दोस्तों , बैठे रहने से ना आज कुछ हो रहा है और कल ना कुछ होगा , ये जरुरी नहीं है की आप कितना चले बल्कि जरुरी ये है की आप अपनी मंज़िल से कितना नजदीक आये हो।  आपको success रास्ते में खड़े रहने से नहीं मिलेगी , आपको उस रस्ते पर चलना होगा मतलब की आपको success   चाहिए तो महेनत तो आपको ही करनी होगी।  जितना fast चलोगे उतनी ही student  आपके पास आएगी।  तो अगर आपको fast चलना है तो आपको start  तो करना ही होगा जो 5 मिनट रूल आपसे करवा देगा।

तो  दोस्तों , आपको ये article  कैसा लगा हमें जरूर बताये और इससे अगर आपको कुछ मोटीवेट कर सका तो आप इस article  को सोशल मीडिया में जरूर शेयर करे। आपको आसानी हो इसलिए हमने नीचे सोशल मीडिया शेयर का बटन भी  दिया है।


0 comments:

Post a Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Blog Archive