इम्यून सिस्टम को कैसे बढ़ाएं | इम्युनिटी बढ़ाने की होम्योपैथिक मेडिसिन |इम्युनिटी क्या है

Updated: 5 days ago



herbs to boost immune system foods that weaken immune system


COVID-१९ के संक्रमण ने हमें खान-पान व सेहत के प्रति सजग रहने के लिए प्रेरित किया है , जिससे मजबूत बनती है इम्युनिटी। बेहतर स्वस्थ के लिए भोजन और ब्यायाम ही नहीं। इसके लिए पर्याप्त नींद का लेना भी जरूली है।


drinks to boost immune system how to boost immune system quickly

COVID-१९ वैश्विक महामारी के दौर में वायरस के संक्रमण से इम्युनिटी स्वस्थ एवं चिकित्सा चर्चा के केंद्र में है। इस समय इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कई तरीके बताये जा रहे है। और लोगो द्वारा अपनाये भी जा रहे है। जिससे की कोरोना संक्रमण से बचाव हो सके।


रोचक बात यह है कि इम्युनिटी बूस्टर के नाम से इस समय बाजार में तरह तरह के औषोधिया उत्पाद बिक रहे है। पहले भी ऐसी ओशोधिया बिना किसी विज्ञापन के उपलब्ध थी।


चिकित्सा छेत्र में काम करने वाले बिशेषज्ञो और स्वस्थ के प्रति जागरूक नागरिक को सेहतमंद बने रहने और रोगो के संक्रमण से बचने के लिए मजबूत इम्युनिटी की अहमियत अच्छी तरह मालूम है। यक़ीनन इसमें जीवनशैली से जुडी कई बातो का योगदान होता है। जिससे नींद की बड़ी भूमिका है नींद का सरल अर्थ है , रात में अच्छी तरह सोना, जिससे कि सुबह उठने पर आप अच्छा और तरोताजा महसूस करे।


सेहत की सबसे अच्छी दवा :


नींद के दौरान शरीर रूपी इस जटिल लेकिन अदभुत मशीन की रोजाना रिचार्ज और साफ रखना जरूली है। दिनभर की शारीरिक मानसिक थकान रात की अच्छी नींद से पूरी हो जाता है। और हमारी सुबह पुनः भरपूर ऊर्जा, उत्साह व उमंग से भरी होती है।


आलस्य व तनाव का कारण अपर्याप्त नींद :-


आधुनिक जीवन शैली व तकनीक आधारित कार्यशैली के समेकित प्रभाव ने नींद को दुष्प्रभावित किया है


देर रात तक मोबइल लेपटॉप आदि पर ज्यादा व्यस्त रहना और सुबह देर तक सोना या चार पांच घंटे के नींद के बाद ही किसी कारणवश जल्दी उठने की बाध्यता, आज अधिसंख्य लोगो, खासकर कामकाजी युवाओ एवं अध्ययनरत विध्यार्थी की दिनचर्या हो गई है।


इस तरह की जीवनशैली व कार्यशैली के कारण बड़ी सिख्या में लोग कई प्रकार के स्लीप डिसऑर्डर से परेशान रहते है। ऐसे लोग कई बार ७-८ घंटे तक सोने के बाद भी सुबह आलस्य, तनाव व थकान महसूस करते है।


पर्याप्त नींद के आभाव में नींद का बकाया परेशानी का कारण बनता है। स्वास्थ्य के लिहाज से इसके अनेक दुष्प्रभाव भी शामिल है।


कई बीमारियों का कारण:-


नींद के मामले में संतुलन बनाए रखना बहुत जरुली है। कई शोधो व सर्वेछणो से यह साबित हो चूका है की अपर्याप्त और अनियमित नींद से जुडी समस्याओ से बड़ी संख्या में लोग पीड़ित हो रहे है।


नींद लेना चाहे और नींद ले न पाए। वास्तब में यह विकट समस्या है। इससे छुटकारा पाने के लिए कुछ लोग तो नियमित रूप से शराब या नींद की गोली का सेवन करते है। जिससे उन्हें फौरी तोर पर लाभ मिलता है। लेकिन यह आदत कई अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्या पैदा कर देती है।


इसलिए अपने इम्यून सिस्टम को बड़े ने के लिए पर्याप्त नींद लेना बहुत जरूली है। आज के इस दौर में अपने आप को स्वस्थ रखना बहुत ही आवश्यक हो गया है। तो आप भी इस तोर तरीके को अपनाये और प्रॉपर नींद ले।

© 2020 by Hhindi.com.
Proudly created by gaurav hhindi.com